एक नग्म लिख रहा हूँ !

उनकी यादो को सजाके, एक नग्म लिख रहा हूँ। उनकी परछाई को, अपनी कलम की स्याही से बना रहा हूँ। वो हैं  तो नहीं हमारे, पर उनको अपना बनाने की चाह कर रहा हूँ। उससे जुड़े हर पल को, अपनी नग्म में जोड़ रहा हूँ। उनकी यादो को सजाके, एक नग्म लिख रहा हूँ।।   अल्प […]

Read More

जी हैं !

अपनी कल्पनाओं में तुझे रचकर, एक नई रचना करने का जी हैं। तुझे अपनी कल्पनाओं से वास्तविकता में लेने का जी हैं। तुझे जीवंत करके अपनी कलपना को अमर करने का जी हैं। आज फिर तुझमे खुद को जीने का जी हैं। इस अनंत संसार में अपनी कल्पनाओं  को लाकर, एक पहचान बनाने का जी हैं। […]

Read More

बैठ जाता हूं मिट्टी पे अक्सर – हरिवंशराय बच्चन

बैठ जाता हूं मिट्टी पे अक्सर, क्योंकि मुझे अपनी औकात अच्छी लगती है । मैंने समंदर से सीखा है जीने का सलीक़ा, चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना ।। ऐसा नहीं है कि मुझमें कोई ऐब नहीं है पर सच कहता हूँ मुझमे कोई फरेब नहीं है जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से […]

Read More

वैलेंटाइन गिफ्ट

इस वैलेंटाइन आप को ये उपहार देता हूँ , आज आपके लिए एक कविता लिखता हूँ, मेरे मन में आप की प्रति-छाया को, आप को भेट करता हूँ, इस वैलेंटाइन आप को ये प्यार देता हूँ । । आप की मनमोहक यादो को, उन खयालो को आप को देता हूँ, आप के चेहरे की मासूमियत […]

Read More

दादा का खत पोते के नाम – कविता

प्यारे मुन्ना इस दुनिया में तुम्हारा स्वागत है| यह बहुत ही सुन्दर अनोखी और प्यारी जगह है| और तुम्हे इसे और भी सुन्दर और भी प्यारी बनाने के लिए भेजा गया है| भेजा किसने? यह आज तक कोई नहीं जान पाया है| हम सबके पास एक सिमित समय होता है| और जितना भी हो, कम […]

Read More

मन की महिमा – कबीर

कबीर मन तो एक है, भावै तहाँ लगाव |भावै गुरु की भक्ति करू, भावै विषय कमाव || गुरु कबीर जी कहते हैं कि मन तो एक ही है, जहाँ अच्छा लगे वहाँ लगाओ| चाहे गुरु की भक्ति करो, चाहे विषय विकार कमाओ| कबीर मनहिं गयन्द है, अंकुश दै दै राखु |विष की बेली परिहारो, अमृत […]

Read More

Rabindranath Tagore Poems – नहीं मांगता

नहीं मांगता, प्रभु, विपत्ति से, मुझे बचाओ, त्राण करोविपदा में निर्भीक रहूँ मैं, इतना, हे भगवान, करो।नहीं मांगता दुःख हटाओ, व्यथित ह्रदय का ताप मिटाओदुखों को मैं आप जीत लूँ,ऐसी शक्ति प्रदान करो विपदा में निर्भीक रहूँ मैं,इतना, हे भगवान,करो।कोई जब न मदद को आये मेरी हिम्मत टूट न जाये।जग जब धोखे पर धोखा दे […]

Read More